Blog

पीरियड्स के दर्द को शांत करने वाली 5 आयुर्वेदिक औषधि

Pinterest LinkedIn Tumblr

यह कहना कि आयुर्वेद में हर चीज का इलाज है, अतिशयोक्ति नहीं होगी। आसानी से उपलब्ध घरेलू सामग्री से आराम से तैयार किए गए आयुर्वेदिक उपचार मासिक धर्म में दर्द और अनियमितता सहित कई समस्याओं को ठीक कर सकते हैं।

जी हाँ! महिलाओ में होने वाली सबसे आम समस्याओं में से एक – दर्दनाक पीरियड्स- का किचन कैबिनेट में पाए जाने वाली चीजो द्वारा इलाज किया जा सकता है। इन आयुर्वेदिक तत्वोँ में से कुछ न केवल राहत प्रदान करते हैं, बल्कि विभिन्न अन्य स्वास्थ्य लाभ भी प्रदान करते हैं। उदाहरण के लिए, कुछ आयुर्वेदिक तत्व आपके शरीर में एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन हार्मोन के बीच एक उचित संतुलन बनाए रखने में मदद कर सकते हैं, जिससे नियमित रूप से पीरियड्स हो सकते हैं और योनि का सूखापन और स्पॉटिंग जैसी समस्याएँ भी कम हो सकती हैं। इसके अलावा ये पोषक तत्वों से भरे हुए हैं जो आपके समग्र स्वास्थ्य को ठीक रखते हैं।

तो अगली बार आपके पीरियड्स में असुविधा या दर्द होने पर आप भी निम्न कुछ प्राकृतिक उपायो पर विचार कीजिए।

भूतकेशी

यह जडी-बूटी दर्द से राहत के लिए आमतौर पर प्रयोग की जाती है। यह औषधीय जड़ी बूटी पाउडर के रूप में होती है, इसको उबलते पानी में लगभग 1 से 2 ग्राम पाउडर डालें, छान कर थोडा शहद मिलाये और इसे दिन में कम से कम दो बार लें।

अजवायन

ये बीज होते हैं और पूरे भारत में किसी भी रसोई में आसानी से पाए जा सकते हैं। मांसपेशियों में ऐंठन के लिये भी अजवाईन अक्सर प्रयोग की जाती है। बस दो कप पानी में अजवाईन की दो चुटकी डालें और इसे उबलने के लिए छोड़ दें जब तक कि यह आधा न रह जाए, फिर इसे छान कर शहद डाल कर पी ले।

कैनाबिस

उचित रूप से उपयोग करने पर औषधीय भांग कफ को कम करती है – जो तीन दोषों में शरीर के “जल तत्व” का प्रतिनिधित्व करता है; यह पित्त बढ़ाता है – जो शरीर के चयापचय प्रणाली का प्रतिनिधित्व करता है, और पाचन को ठीक करता है। प्रजनन तंत्र को ठीक करने की शक्ति रखने वाली कैनाबिस सपोसिटरीज़ जिसमें टेट्राहाइड्रोकैनाबिनोल (टीएचसी) शामिल हैं, मांसपेशियों में अकडन और दर्द से राहत देती हैं। मासिक धर्म या पीरियड्स के दौरान भांग को प्रयोग करने के विभिन्न तरीके हैं; उदाहरण के लिए, मांसपेशियों को आराम देने और तीव्र दर्द से राहत के लिए कैनबिस-आधारित तेलों को अपने पेट पर लगा कर मालिश कर सकते हैं।

त्रैलोक्य विजया वटी जैसे भांग के कुछ उत्पाद भी हैं, जो पीरियड्स में दर्द के इलाज के लिए आयुर्वेद की ओर से एक अच्छा उपाय है। इसके बारे में अधिक जानने के लिए आप हेम्पस्ट्रीट पर इसके बारे में पढ सकते हैं।

गुड़

यह वात को शांत करता है, जो तीन दोशो में से एक है। ठीक से संतुलित होने पर यह स्वास्थ्य को बेहतर बनाता है और चीनी की जगह एक अच्छा विकल्प है। इसके लाभों का अनुभव करने के लिए अपने मासिक चक्र से कुछ दिन पहले चीनी की जगह गुड़ का सेवन करेँ।

घृतकुमारी

यह एलोवेरा के रूप में जाना जाता है, एलोवेरा बहुमुखी पौधों में से एक है जो शुष्क त्वचा से लेकर पीरियड क्रैम्प तक लगभग कुछ भी ठीक कर सकता है। मासिक धर्म के दौरान रोज़ाना एक गिलास एलो वेरा के रस को पीना पीरियड्स के दौरान होने वाली असुविधा को कम करने का एक शानदार तरीका है।

पीरियड क्रैम्प्स हर माह होने वाली मासिक प्रक्रिया है, और ये उपाय अस्थायी रूप से दर्द से राहत प्रदान करने में मदद कर सकते हैं, लेकिन बहुत अधिक और निरंतर दर्द होने पर डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए। डॉक्टर के साथ अपॉइंटमेंट बुक करने के लिए हेम्पस्ट्रीट पर जायेँ और आज ही दर्दनाक पीरियड्स के लिए बेहतर और प्रभावी उपचार प्राप्त करें।

संदर्भ 

Cannabis for Menstrual Cramps: Can Cannabis Help Women with Painful Periods? (greencamp.com)

These 7 Ayurvedic herbs will work like magic to soothe your period cramps (healthshots.com) 

https://www.healthshots.com/intimate-health/menstruation/these-7-ayurvedic-herbs-will-work-like-magic-to-soothe-your-period-cramps/

https://blog.hempstreet.in/5-ayurvedic-ingredients-that-work-wonders-to-soothe-menstrual-cramps/

Write A Comment